फैशियल रिकग्निशन को प्रतिबंधित करके सैन फ्रांसिस्को बनी प्रथम अमेरिकी शहर

usa-city-san-francisco-to-ban-facial-recognition-by-officals

अमेरिकी शहर सैन फ्रांसिस्को दुनिया की पहली शहर बन गयी है जिसने सरकारी एजेंसियों द्वारा फैशियल रिकग्निशन प्रौद्योगिकी की उपयोग पर प्रतिबंध लगाने के लिये मतदान किया है।

यह अध्यादेश अगले महीने से प्रभावी हो सकती है जो कानूनी एजेंसियों को इस औजार का इस्तेमाल करने से रोकेगी। इस अध्यादेश के लागू होने के बाद कानूनी एजेंसियों को इस चौकसी प्रौद्योगिकी का उपयोग करने के लिये बोर्ड अनुमोदन लेनी पड़ेगी और मौजूदा समय में चलमान चौकसी की ओडिट करवानी पड़ेगी।

इस योजना का नाम स्टोप सीक्रेट सर्विलांस अध्यादेश रखा गया है जिसका नेतृत्व आरोन पेस्किन कर रहे हैं।

“यह अध्यादेश चौकसी प्रौद्योगिकी की जवाबदेही निर्धारित करती है”, पेस्किन ने कहा।

यह प्रौद्योगिकी-विरोधी नीति नहीं है।

हालाँकि पेस्किन ने फेशियल रिकग्निशन को खतरनाक व दमनकारी करार दिया।

द भर्ज ने कहा है कि यह प्रतिबंध वहाँ फेशियल रिकग्निशन पर चल रही बहस के बाद लगायी गयी है जिसमें इस औजार के प्रति विशिष्ट चिंता जतायी जा रही है। माइक्रोसोफ्ट ने भी इसकी नियमन पर मुहर लगायी है जो फेशियल रिकग्निशन औजारों की पेशकश करती है।

हालाँकि यह नियमन कैसे प्रभावी होगी, इसपर मतभेद है और चर्चाओं की बाजार गर्म है।

छवि स्त्रोत: Pixabay

क्या आप जानते हैं कि आपके द्वारा पढ़ा गया यह पोस्ट हजारों को प्रेरित करने वाली है? यदि इसका जवाब हाँ है तो आप अपने वही विचार यहाँ भी दे सकते हैं।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Enjoy Reading with Takniq :-)