ट्विटर ने 1.6 लाख+ आतंकी खातों को हटाया

twitter deleted more than 1.6 lakh accounts against anti-terror

भारत में चौथी लोकप्रिय सामध्यमा एप ट्विटर ने आतंकी गतिविधियों के खिलाफ बड़ा कदम उठाते हुये 1,66,513 खातों को निलंबित कर दिया है। ट्विटर ने इसकी घोषणा अपनी हालिया 14वीं पारदर्शिता रिपोर्ट में किया है।

ट्विटर ने कहा है कि उसकी आतंकविरोधी नीतियों के कारण आतंकी संगठन ट्विटर का कम इस्तेमाल कर रहे हैं। और इसमें तेजी से कमी देखी जा रही है।

“जन-जून’18 की अवधि के मुकाबले अभीतक आतंक संबंधी ट्विटों में 19 प्रतिशत की कमी आयी है”, विजया गड़े, ट्विटर की विधि, नीति एवं भरोसा व सुरक्षा नेतृत्व ने अपनी ब्लोग में कहा। “जिन खातों को निलंबित किया गया है, उनमें से 91 प्रतिशत को हमारी तकनीकी औजारों ने फ्लैग किया था।”

इसके अलावा 86 देशों ने ट्विटर से खाता संबंधी जानकारी माँगा जिनमें अमेरिका शीर्ष पर है। अमेरिका ने 30 प्रतिशत सूचना अनुरोध भेजा। वहीं जापान से 24 प्रतिशत, ब्रिटेन से 13 प्रतिशत, भारत-जर्मनी से 6-6 प्रतिशत अनुरोध मिली।

“हमारे पास जन-जून’18 की अवधि के मुकाबले ट्विटर मंच से सामग्री हटाने की 8 प्रतिशत कम अनुरोध आयी”, गड़े ने कहा।

इस दौरान ट्विटर को बुल्गारिया, मेसेडोनिया एवं स्लोवेनिया समेत 48 देशों की 27,283 खातों से जुड़ी अनुरोध मिली है। सामग्री हटाने हेतु मिली कुल विधिक अनुरोधों में से 74 प्रतिशत केवल 2 देशों रुस और तुर्की से मिली है।

ट्विटर ने बाल यौन उत्पीड़न से जुड़ी आरोपों के चलते 4,56,989 अनूठी खातों को हटा दिया है जो पिछली अवधि के मुकाबले 6 प्रतिशत कम है। इनमें से 96 प्रतिशत को फोटोडीएनए और बाकी औजारों के जरिये फ्लैग किया गया था।

आतंक हो या बाल यौन उत्पीड़न, दुनिया को इनसे छुटकारा मिलना बेहद जरुरी है। इसके साथ सार्वजनिक मंच जितनी साफ-सूथरी रहेगी, उतनी ही आमजनों के लिये ज्यादा हितकर रहेगी।

छवि स्त्रोत: Pixabay

क्या आप जानते हैं कि आपके द्वारा पढ़ा गया यह पोस्ट हजारों को प्रेरित करने वाली है? यदि इसका जवाब हाँ है तो आप अपने वही विचार यहाँ भी दे सकते हैं।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Enjoy Reading with Takniq :-)