ट्रंप हुवाई पर पूर्ण प्रतिबंध लगा सकते हैं

trump-usa-telecom-ban-on-huawei

चीन के साथ व्यापारिक मोर्चे पर तल्खियाँ बढ़ने के बाद चीनी दूरसंचार कंपनी हुवाई पर भी पूर्ण प्रतिबंध लगने का अंदेश गहरा रही है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप किसी विधायी आदेश पर हस्ताक्षर कर सकते हैं जो अमेरिकी कंपनियों को हुवाई की दूरसंचार उपस्करों का उपयोग करने से प्रतिबंधित करेगी।

राइटर्स के अनुसार, ऐसा राष्ट्रीय सुरक्षा के मद्देनजर किया जायेगा।

अमेरिकी कानून अंतर्राष्ट्रीय आपातकालीन आर्थिक शक्ति अधिनियम, 1977 के अनुसार, राष्ट्रीय आपातकाल में अमेरिकी राष्ट्रपति व्यापार नियंत्रित कर सकते हैं। यह आदेश पिछले एक वर्ष से विलंबित है और राइटर्स कहती है कि यह एक बार पुनः विलंबित की जा सकती है।

इस विधायी आदेश में किसी कंपनी का नाम नहीं है पर यह आदेश हुवाई को सर्वाधिक प्रभावित करना चाहेगी जब अमेरिकी गुप्तचर एजेंसी सीआईए लंबे समय से हुवाई और जेडटीई को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिये खतरा मानती आयी है। वहीं हुवाई भी महत्वपूर्ण सवालों से बचती दिखती है।

इसकी वजह से हुवाई उपस्कर पिछले एक वर्ष से अमेरिकी सरजमीं पर प्रतिबंधित है। हुवाई की मुख्य आर्थिक अधिकारी मैंग वांगझू भी धोखाधड़ी के आरोप में अमेरिकी न्यायालय का सामना कर रही हैं। वहीं कंपनी पर टी-मोबाइल की गुप्त जानकारी चुराने का भी आरोप है।

वहीं हुवाई इन आरोपों को नकारती आयी है। हुवाई अमेरिकी सरकार का खुले तौर पर विरोध कर रही है और इस प्रतिबंध को असंवैधानिक करार दे रही है।

हालाँकि हुवाई पर लगने वाली प्रतिबंध का सबसे बड़ी खामियाजा अमेरिकी कंपनियों को भुगतना होगा जो हुवाई की बेतार उपस्करों का उपयोग करके अपनी 5जी सेवा जल्दी लांच करना चाहेंगे। ऐसे में, यदि यह विधायी आदेश लागू होती है, तब अमेरिका को ही इसका नुकसान झेलना होगा क्योंकि हुवाई अमेरिका के बाहर यूके में 5जी नेटवर्क बनाने में मदद कर रही है। इसके अलावा वह यूरोप की 5जी नेटवर्क निर्माण में भी अहम भूमिका निभा सकती है।

छवि स्त्रोत: Pixabay

क्या आप जानते हैं कि आपके द्वारा पढ़ा गया यह पोस्ट हजारों को प्रेरित करने वाली है? यदि इसका जवाब हाँ है तो आप अपने वही विचार यहाँ भी दे सकते हैं।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Enjoy Reading with Takniq :-)