इटली ने शुरु की गूगल के विरुद्ध भरोसीविरोधी जाँच

italy-antitrust-probe-google-android-auto-enel-group

सीएनबीसी के अनुसार, गूगल ने इतालवी कंपनी को एंड्राएड ओटो के साथ काम करने की अनुमति देने से मना कर दिया। इसके बाद इतालवी कंपनी ने इसकी शिकायत स्थानीय विभाग से की जिसके बाद इतालवी भरोसाविरोधी प्राधिकरण ने गूगल के विरुद्ध जाँच का आदेश दे दिया है।

प्राधिकरण ने यह जाँच इतालवी कंपनी ईनेल समूह की शिकायत के बाद शुरु किया है। इसमें गूगल पर आरोप है कि उसने ईनेल एक्स रीचार्ज नामक एप को एंड्राएड ओटो के साथ काम करने की अनुमति नहीं दी।

सनद रहे कि इतालवी वित्त मंत्रालय की ईनेल समूह में अहम हिस्सेदारी है।

इतालवी आयोग ने कहा है कि गूगल स्मार्ट उपकरण बाजार में अपनी प्रभावी स्थिति का दुरुपयोग कर रही है।

यह सर्वविदित है कि गूगल एंड्राएड ओपरेटिंग सिस्टम के जरिये स्मार्ट उपकरण बाजार में अहम भूमिका रखती है। गूगल अपनी एंड्राएड ओटो एप के जरिये कारों को ऐसी सुविधायें देती है जिसमें कार चालक कार चलाते वक्त कुछ एपों का उपयोग कर सकते हैं।

गड़बड़ी यहीं हुयी है; ईनेल समूह की ईनेल एक्स रीचार्ज एप विद्युत कारों के चालकों को चार्जिंग स्टेशन ढूँढने में मदद करती है। वहीं गूगल त्रिपक्षीय एप विकासकों को वैसी एंड्राएड ओटो-संगत एप विकसित करने की अनुमति देती है जो सिर्फ मध्यमा या संदेशी सेवायें देती हैं।

इस तरह एंड्राएड ओटो की जरुरत थोड़ी कम हो जाती!

“एंड्राएड ओटो सुरक्षा के मद्देनजर शिल्पित है जो सुनिश्चित करती है कि कार चलाते वक्त आप सुरक्षित रुप से एप चला पायेंगे”, गूगल प्रवक्ता ने सीएनबीसी को भेजे ईमेल बयान में कहा। “हम इस शिकायत की समीक्षारत हैं और इसे प्राधिकरण के साथ सुलझाने की कामना करते हैं।”

प्राधिकरण ने कहा है कि यह जाँच 2020 में 30 मई तक पूरी हो जायेगी।

इससे पहले इतालवी प्राधिकरण अमेजन के खिलाफ भी प्रारंभिक जाँच शुरु कर चुकी है जिसमें उसपर आरोप है कि वह ईकोमर्स एवं लोजिस्टिक्स सेवाओं में अपनी प्रभावी स्थिति का दुरुपयोग कर रही है।

इसी महीने भारतीय प्रतिद्वंद्विता आयोग ने भी गूगल के खिलाफ जाँच शुरु किया है जिसमें उसपर एंड्राएड बाजार में प्रभावी स्थिति का दुरुपयोग करने का आरोप है। इससे पहले यूरोपीय आयोग भी वेब पर प्रभावी स्थिति का दुरुपयोग करने के मामले में गूगल को दोषी मान चुकी है और जुर्माना भी लगा चुकी है।

छवि स्त्रोत: Pexels

क्या आप जानते हैं कि आपके द्वारा पढ़ा गया यह पोस्ट हजारों को प्रेरित करने वाली है? यदि इसका जवाब हाँ है तो आप अपने वही विचार यहाँ भी दे सकते हैं।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Enjoy Reading with Takniq :-)