वीवो भारत में अनुसंधान व विकास केंद्र खोलेगी

vivo-research-and-development-centers-indiaचीनी स्मार्टफोन निर्माता वीवो मेक इन इंडिया कार्यक्रम के तहत डिजाइन, अनुसंधान व विकास केंद्र खोलने जा रही है। कंपनी ने कहा है कि वह उत्तर प्रदेश में ₹4000 करोड़ निवेश करके अपना मैनुफैक्चरिंग हब बनायेगी।
इससे भारतीय प्रौद्योगिकी को बढ़ावा मिलेगी। इस तरह के केंद्र भारतीय हैंडसेट पर्यातंत्र को मजबूत बनायेंगे और नयी बौद्धिक संपदा की रचना में मदद करेंगे जो अंततः भारतीय होगी।
हमारे लोग बाजार में सामान खरीदते समय भारतीय चीजों को तरजीह देते हैं। ऐसे में वीवो का यह प्रयास उनलोगों को रिझा सकती है जो भारत निर्मित चीजें खरीदना पसंद करते हैं।
काउंटरपोइंट के अनुसार, 2018 की अक्तू-दिसं तिमाही में 9% बाजार हिस्सेदारी थी जो एक वर्ष पूर्व 6% थी। यह अब शाओमी और सैमसंग से पीछे है।
छवि स्त्रोत: Vivo

क्या आप जानते हैं कि आपके द्वारा पढ़ा गया यह पोस्ट हजारों को प्रेरित करने वाली है? यदि इसका जवाब हाँ है तो आप अपने वही विचार यहाँ भी दे सकते हैं।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Enjoy Reading with Takniq :-)