माइक्रोसोफ्ट अपनी कूटशब्द अवसान नीति को अलविदा कह सकती है

अमेरिकी कंपनी माइक्रोसोफ्ट अपनी ओपरेटिंग सिस्टम विंडोज पर कूटशब्द अवसान नीति में अहम बदलाव करने की तैयारी कर रही है।

माइक्रोसोफ्ट सुरक्षा विन्यास की नयी मसौदे पर काम कर रही है जो किसी नेटवर्क समूह नीति के तहत उपयोक्ताओं को हर सप्ताह या महीने अपनी कूटशब्द बदलने के लिये बलपूर्वक नहीं कहेगी। यह मसौदा विंडोज 10 संस्करण 1903 (या “19एच1”) एवं विंडोज सर्वर संस्करण 1903 के उपयोक्तों पर लागू होगी।

माइक्रोसोफ्ट ने अपनी पोस्ट में कहा है कि अनुशंसित नीतियाँ कोर्पोरेट नेटवर्क पर मौजूद किसी समूह के सभी उपयोक्ताओं पर लागू होंगी। इसके साथ दुरुपयोग या अपमान जैसी मामलों में लागू नियमों में भी बदलाव किया जायेगा।

बकौल कंपनी, मौजूदा कूटशब्द बदलाव नीति प्राचीन व महत्वहीन हो चुकी है और कंपनी इसे अब विश्वसनीय नहीं मानती है।

कुछ अंतरालों पर कूटशब्द बदलने के लिये बाध्य करने से, उपयोक्ता कमजोर कूटशब्दों के साथ काम करने लगते हैं जो उनके लिये हानिकारक ही होती है।

इसे आप आम लहजे में समझिये कि माइक्रोसोफ्ट चाहती है कि आप आसान व सरल कूटशब्दों के बजाय मजबूत, लंबी और अनूठी कूटशब्दों का उपयोग करेंगे। और मालवेर के जमाने में कूटशब्द वैसेही महत्व खो रही हैं, ऐसे में क्रमिक अंतराल पर कूटशब्द बदलने के बजाय आपको मजबूत कूटशब्दों के साथ काम करना चाहिये।

अनुसंधानकर्ताओं का मानना है कि यदि किसी के पास आपका कूटशब्द है, तब उनके लिये आपकी अगली कूटशब्द जानना पहले से अधिक आसान होती है।

छवि स्त्रोत: Pixabay

क्या आप जानते हैं कि आपके द्वारा पढ़ा गया यह पोस्ट हजारों को प्रेरित करने वाली है? यदि इसका जवाब हाँ है तो आप अपने वही विचार यहाँ भी दे सकते हैं।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Enjoy Reading with Takniq :-)