माइक्रोसोफ्ट इसके लिये पैच ला सकती है पर यह पुष्ट नहीं है कि वह ऐसा कब कर रही है।

हालाँकि जबतक वह कोई समाधान लायेगी, तबतक करोड़ों उपयोक्ता बिना किसी सुरक्षा के हैकरों के भरोसे बैठे हुये हैं। इसका एक समाधान कंपनी कर सकती है कि वह इंटरनेट एक्सप्लोलर बंद कर दे क्योंकि वह पहले ही एज ब्राउजर ला चुकी है। ऐसे में इंटरनेट एक्सप्लोलर का कोई औचित्य नहीं बनती है!

छवि स्त्रोत: Medium Post