ट्विटर अबतक 38% अपमानजनक ट्विटों को हटा चुकी है

healthier-twitter-flagged-abusive-tweets-and-more

कल ट्विटर ने एक अद्यतन ट्विट करते हुये अपनी भावी योजनाओं के बारे में बताया कि वह ओनलाइन उत्पीड़न से कैसे निपटेगी।

ट्विटर अपनी मंच पर अर्थपूर्ण चर्चाओं के साथ स्वस्थ प्रतिस्पर्धा चाहती है। ऐसे में, वह अपनी मंच से अपमानजनक ट्विटों को हटाने पर जुटी हुयी है। इसी मसले पर ट्विटर सेवा के उपाध्यक्ष डोनल्ड हिग्स ने अपनी पोस्ट में कहा है कि अपमानजन्य सामग्री परोसने वाली खातों को सक्रियतापूर्वक निलंबित किया जा रहा है।

ट्विटर ने कहा कि उसकी नयी औजार ने 38% अपनामजनक ट्विटों को समीक्षाधीन कर दिया। हालाँकि उन्हें यह बताना चाहिये था कि इन ट्विटों की संख्या कितनी थी या पिछले वर्ष से इसमें कितनी बढ़ोतरी हुयी है।

“ट्विटर जिस प्रौद्योगिकी का उपयोग स्पैम, मंच दुरुपयोग या अन्य नियमविरोधी तरीकों में करती है, उसी का इस्तेमाल अपमानजनक ट्विटों को फ्लैग करने में कर रही है”, हिग्स ने कहा। “यह उपयोग अपनी प्रारंभिक चरण में है।”

ट्विटर ने जनवरी-मार्च 2019 तक एक लाख से अधिक उपयोक्ताओं को निलंबित कर दिया जिन्हें अपमानजनक ट्विट करने की वजह से कंपनी ने उनकी पुरानी खातों को निलंबित कर दिया था। इसमें पिछले वर्ष की अवधि से 45 प्रतिशत वृद्धि देखी गयी।

“अपनी खातों से अपमानजनक ट्विट करने के बाद निलंबित होने वाले लोगों ने जब दोबारा खाता खोला तो कंपनी ने उनके नये खातों को भी निलंबित कर दिया”, हिग्स ने अपनी पोस्ट में कहा।

ट्विटर अपमानजक खातों पर भी गाज गिरा रही है। इस वर्ष, वह 24 घंटों के भीतर इन खातों को निलंबित कर रही है जो पिछले वर्ष की इसी अवधि से 3 गुना अधिक है।

कंपनी ने एप की अंदरुनी अपील प्रक्रिया में 60% तेजी लायी है। इसके साथ नयी रिपोर्टिंग प्रक्रिया की मदद से 2.5 गुना अधिक निजी सूचनाओं को हटाया गया।

इसके साथ ट्विटर ने एक नयी मिति प्रदर्शित किया है जो ऐसे मामलों में कारगर साबित होगी और मंच से दुर्भावना फैलाने वाली तत्वों को बाहर करेगी।

कंपनी ने कहा है कि वह अपनी नियमों को जल्द अद्यतित करेगी जो उपयोक्ताओं हेतु समझने में आसान व सरल होंगी। वह जून में नये अद्यतन ला रही है जिनसे उपयोक्ताओं को अधिक सहजता होगी।

छवि स्त्रोत: Pexels

क्या आप जानते हैं कि आपके द्वारा पढ़ा गया यह पोस्ट हजारों को प्रेरित करने वाली है? यदि इसका जवाब हाँ है तो आप अपने वही विचार यहाँ भी दे सकते हैं।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Enjoy Reading with Takniq :-)