गूगल की दो सेवायें ले रही हैं दुनिया से विदा, 2 अप्रैल से

google chrome window

गूगल+ और इनबोक्स बाय गूगल को बाय-बाय बोलने के लिए तैयार हो जाइये क्योंकि गूगल जल्द ही इन दोनों एपों को बंद करने जा रही है। अक्तूबर 2018 में, कंपनी ने अपनी ब्लोगपोस्ट में लिखकर जता दिया था कि वह फेसबुक-समतुल्य गूगल+ को बंद कर देगी। इसके पीछे आँकड़ा सुरक्षा में सेंध बतायी गयी है जिसके फलस्वरुप गूगल प्लस की उपभोक्ता संस्करण पूर्णतः बंद हो जायेगी।

गूगल अपनी दूसरी सेवा इनबोक्स बाय गूगल को भी बंद करने जा रही है जिसकी तारीख 2 अप्रैल तय है। उपयोक्ताओं को भेजी जा रही अधिसूचना में शामिल संदेश है:

यह एप {2 अप्रैल – आज} दिनों में बंद हो रही है।

गूगल ने अपनी ब्लोगपोस्ट में कहा था:

चार साल में हमने ईमेल को बेहतर करने के बारे में लगातार सीखा है और हमने लोकप्रिय इनबोक्स अनुभव को जीमेल एप में एकीकृत कर दिया है। अब हम पूरी तरह से जीमेल एप पर फोकस कर रहे हैं और इसलिए इनबोक्स को अलविदा कहना होगा।

जब गूगल ने इनबोक्स एप लांच किया था, तब उसमें जीमेल एप से अधिक व उन्नत विशेषतायें उपलब्ध थी लेकिन वर्तमान समय में जीमेल में वही विशेषतायें मौजूद हो चुकी हैं तो इनबोक्स एप का औचित्य नहीं रहता!

पिछले वर्ष, गूगल ने जीमेल का पुनर्शिल्प जारी किया था जो जीमेल में अबतक की सबसे बड़ी अद्यतन है। इसकी वजह से गूगल ने इनबोक्स एप सेवा को बंद करना मुनासिब समझा। वैसे भी आप ईमेल के लिये दो अलग-अलग एप क्यों रखना चाहेंगे, और वह भी कम-बेशी विशेषताओं के चक्कर में!

गूगल+ बंद किये जाने की सबसे बड़ी वजह है, इसके उपयोक्ताओं का बेहद कम होना। गूगल+ पर, उपयोक्ता औसतन 5 सकेंड गुजारते हैं। ऐसे में, कंपनी ने गूगल+ की एंटरप्राइज संस्करण को जिंदा रहने दिया है और सिर्फ उपभोक्ता संस्करण बंद कर रही है। 2 अप्रैल से, गूगल आपकी व्यक्तिगत आँकड़ा मिटाने लगेगी।

अगर आप अपना गूगल+ आँकड़ा डाउनलोड करना चाहते हैं तो आप लोगिन करके अपना डाटा बैकप कर सकते हैं।

छवि स्त्रोत: Pixabay

Shristy Jain

Student by profession? writer by passion✍️

क्या आप जानते हैं कि आपके द्वारा पढ़ा गया यह पोस्ट हजारों को प्रेरित करने वाली है? यदि इसका जवाब हाँ है तो आप अपने वही विचार यहाँ भी दे सकते हैं।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Enjoy Reading with Takniq :-)