ENTERPRISE

सिंगापुर क्रिप्टोमुद्रा निवेशकों की संरक्षा हेतु नियम ला सकती है

bitcoin-buying-made-harder-visa-mastercard

सिंगापुर की केंद्रीय बैंक ने गुरुवार को कहा कि वह इस बात पर विचार कर रही है कि क्रिप्टोमुद्राओं एवं अन्य क्रिप्टो संपत्तियों के निवेशकों की निवेश को सुरक्षित बनाते हुये नियमन करना वक्त की जरूरत है।

सिंगापुर वित्तीय प्रौद्योगिकी तथा तथाकथित इनीशियल कोइन ओफरिंग (आईसीओ) के लिये एशियाई सरताज बनना चाहती है। हालाँकि, यहाँ वर्तमान में आभासी मुद्राओं के नियमन के लिये कोई कानून नहीं है और दिसंबर में बकायदा एक चेतावनी भी जारी किया था कि लोगों को क्रिप्टोमुद्राओं में निवेश करने से बचना चाहिये।

सिंगापुर की केंद्रीय बैंक सिंगापुर मौद्रिक प्राधिकरण आभासी मुद्राओं की उन गतिविधियों पर नजर रखती है जहाँ किसी विशेष जोखिम का पता चलता है। उदाहरणार्थ, यह आभासी मुद्रा सेवायें देने वाली कंपनियों के खिलाफ हवाला (धनशोधन) मामलों के तहत कार्रवाई करती है।

“क्रिप्टो निवेशकों की संरक्षा के लिये क्या-क्या उचित कदम उठाये जाये, हम उसका आकलन कर रहे हैं”, सिंगापुर मौद्रिक प्राधिकरण के प्रबंध उपनिदेशक (वित्तीय पर्यवेक्षण) ओं चाऊँ ती ने कहा।

दक्षिण कोरियाई सरकार अपने यहाँ क्रिप्टोमुद्रा सहित सभी क्रिप्टो व्यापार पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा कर चुकी है लेकिन बिटकोइन जैसी अन्य क्रिप्टोमुद्राओं की लोकप्रियता के कारण सरकार ने इसपर उचित नियमन का मन बना लिया है।

हालाँकि नियमन की यह परिभाषा कबतक दुनिया के सामने आयेगी, इसकी पूर्ण पुष्टि का इंतजार है लेकिन वक्त की माँग भी है कि जब हर चीज धीरे-धीरे लोकतांत्रिक हो रही है, तो मुद्राओं का भी लोकतांत्रिकरण होना जरूरी है।

क्या आप जानते हैं कि आपके द्वारा पढ़ा गया यह पोस्ट हजारों को प्रेरित करने वाली है? यदि इसका जवाब सकारात्मक है तो आप अपने वही विचार यहाँ भी दे सकते हैं।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.