Ananya, ENTERPRISE

ट्विटर आखिरकार कमाऊ बनी, पर उपयोक्ता भी गवाया

ट्विटर 12 वर्षीय हो चुकी है और बतौर सार्वजनिक कंपनी 4 वर्ष से है लेकिन हर बार लाभार्जन में पीछे रहने वाली ट्विटर इस तिमाही में लाभदायक बन ही गयी।twitter

कंपनी ने कहा कि उसने 2017 की चौथी तिमाही में $91 मिलियन (₹585 करोड़) का लाभ अर्जित किया जबकि 2016 की इसी तिमाही में उसे $167 मिलियन की हानि हुयी थी। ट्विटर ने पिछले साल निवेशकों को सलाह दी थी कि वह लागत घटाकर पहली बार लाभदायक तिमाही देने जा रही थी।

इस तिमाही में ट्विटर के लिये सिर्फ लाभ ही अच्छी खबर नहीं है। इसकी राजस्व भी बढ़ी है जो $732 मिलियन तक पहुँच गयी है जो 2016 की इसी समय की $717 मिलियन से 2 प्रतिशत ज्यादा है। 2017 के बाकी सत्रों में राजस्व में सालाना 4 से 8 प्रतिशत तक गिरावट देखी गयी थी। यह स्पष्ट नहीं है कि तस्वीरें उल्टी कैसे हुयी पर विज्ञापनदाता मंच पर धन खर्च करने से बचते दिखे जब ट्विटर ने पिछले वर्ष से अहम उत्पीड़न (परेशानी) मुद्दों को गंभीरता से लेना शुरु किया।

इसके साथ एक चीज है जो ट्विटर के लिये बुरे सपने की तरह है। इसकी मासिक उपयोक्ताओं की संख्या घट रही है। इसकी मासिक उपयोक्ताओं की संख्या साल-दर-साल 4 प्रतिशत की दर से बढ़ रही थी जिसमें तिमाही दर तिमाही गिरावट आ रही थी और कुल 300 मिलियन पर रही। इससे बदतर यह हुआ कि मासिक उपयोक्ताओं की संख्या अमेरिका में 69 मिलियन से 68 मिलियन हो गयी है। यह एक साल में दूसरा बार है जब अमेरिकी उपयोक्ताओं की संख्या घटी है। हालाँकि, इसकी समग्र उपयोक्ता वृद्धि सामान्य रही है।

ट्विटर ने इस गिरावट के लिये सफारी की त्रिपक्षीय एप एकीकरण (थर्ड पार्टी इंटीग्रेशन) में हुये अज्ञात बदलाव को वजह माना है। सफारी की इस बदलाव के कारण, ट्विटर मानती है कि उसने 2 मिलियन मासिक उपयोक्ता खो दिया जिनमें से आधे अमेरिका में थे। ट्विटों में हुये बदलावों ने कुछ राहत जरूर दी है। ट्विटर कहती है कि 280-अक्षरों के ट्विटों को जारी करने से उपयोक्ता मंच पर अधिक समय बिताने लगे हैं और जल्दी वापस आते हैं।

हम ट्विटर को सुरक्षित बनाने के लिये प्रतिबद्ध हैं। हम हमारी नीतियाँ स्पष्ट बना रहे हैं। हम प्रवर्तन में सुधार करके बेहतर संबंध बनाने की ओर अग्रसर हैं।

ट्विटर इन्वेस्टर रिलेशन्स (@TwitterIR) फरवरी 8, 2018

हालिया वर्षों में ट्विटर ने उपयोक्ता विकास और उत्पाद फोकस पर काफी संघर्ष किया है। हालाँकि उन समस्याओं का यथानुरुप समाधान नहीं हो रहा है। ट्विटर अबभी अपने प्रतिद्वंदियों के मुकाबले छोटी है, जैसे फेसबुक की छतरी के नीचे वाली इंस्टाग्राम, जिसके पास 800 मिलियन मासिक उपयोक्ता हैं।

यह आय निवेशकों को अतिरिक्त विश्वास दिलाती है जो जैक डोर्सी के बतौर सीईओ वापसी के बाद दो साल पहले की तुलना में थोड़ा अधिक लौट रही है। अब कंपनी लाभदायक है और इसका राजस्व एक बार फिर सही दिशा में बढ़ती दिख रही है। अब ट्विटर के लिये शाश्वत समस्या यह है कि वह लोगों को ट्विटर की समझ और उपयोग बढ़ाने के लिये कैसे प्रोत्साहित करेगी।

क्या आप जानते हैं कि आपके द्वारा पढ़ा गया यह पोस्ट हजारों को प्रेरित करने वाली है? यदि इसका जवाब सकारात्मक है तो आप अपने वही विचार यहाँ भी दे सकते हैं।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.