Ananya, Education, ENTERPRISE

गूगल अंतर्जाल सुरक्षा पर पाठ्यचर्या के लिये एनसीईआरटी के साथ गठजोड़ करेगी

गूगल आईसीटी (सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी) पाठ्यचर्या की डिजीटल नागरिकता और सुरक्षा का पाठ्यक्रम तैयार करने के लिये एनसीईआरटी के साथ काम कर रही है। गूगल ने नई दिल्ली में एक आयोजन के दौरान इसकी उद्घोषणा की।google homepage

यह आयोजन सुरक्षित अंतर्जाल दिवस 2018 हेतु थी जिसमें अनील स्वरुप, सचिव, विद्यालयी शिक्षा विभाग; सुनीता मोहंती, निदेशक, विश्वास और सुरक्षा, गूगल भारत और डाक्टर अमरेंद्र बेहरा, संयुक्त निदेशक, सीआईईटी-एनसीईआरटी जैसे लोग उपस्थित थे।

बकौल मोहंती, “अंतर्जाल ने लोगों का जीवन बेहतर बनाया है और सभी आयु समूहों को आपस में सहयोग करने और कुछ नया करने के लिये अनगिनत अवसर दिया है। ऐसे में मौजूदा उपयोक्ताओं अथवा जो पहली बार इसका उपयोग करते हैं, उन्हें इसके अच्छी-बुरी अनुभव के बारे में जानने की जरूरत है जो वे वेब पर पा सकते हैं”।

“इसलिये यह महत्वपूर्ण हो जाती है कि हमलोग इससे जुड़ी खतरों पर व्यापक चर्चा करें जो वेब सर्फिंग करते समय किसी के साथ भी हो सकती है। एनसीईआरटी के साथ हमारे पाठ्यक्रम एकीकरण के जरिये, हम बच्चों और युवकों को अंतर्जाल पर सुरक्षित रहने के गुर सिखायेंगे”, उन्होंने कहा।

इस पहल के तहत, भारत के 14 लाख विद्यालयों में पहली कक्षा से बारहवीं के विद्यार्थी अंतर्जाल सुरक्षा की कानूनी, सामाजिक और नैतिक पहलुओं को ध्यान में रखते हुये डिजीटल अभ्यासों का अध्ययन करेंगे।

इस कार्यक्रम में बच्चों और शिक्षकों के लिए विशेष संसाधनों की एक श्रृंखला शामिल है, जिससे उन्हें अंतर्जाल सुरक्षा पर खुद को सीखने-सिखाने के लिये आवश्यक औजार भी मिलेंगे।

मोहंती ने बताया, “पाठ्यचर्या बच्चों के विभिन्न आयु वर्ग की बौद्धिक और जिज्ञासा की जरूरतों को पूरा करने के लिए संरचित है।”

“वे जैसे-जैसे अपनी कक्षाओं की संख्या बढ़ायेंगे, वे निजता (प्राइवेसी), उपकरण प्रबंधन, बौद्धिक संपदा और प्रतिष्ठा प्रबंधन जैसी उन्नत विषयों का अध्ययन करेंगे। अंततः जब वे डिजीटल नागरिक के रूप में स्नातक हो जाते हैं, तब वे ओनलाइन वित्तीय साक्षरता और साइबर जुर्म की अवधारणाओं से अवगत हो चुके होते हैं”, उन्होंने जोड़ा।

गूगल ने शिक्षकों के लिये भी एक पाठ्यचर्या (करिकुलम) तैयार किया है जिससे वे विद्यार्थियों को उनकी कक्षाओं में डिजीटल नागरिकता के बारे में सबकुछ सिखा पायेंगे।

क्या आप जानते हैं कि आपके द्वारा पढ़ा गया यह पोस्ट हजारों को प्रेरित करने वाली है? यदि इसका जवाब सकारात्मक है तो आप अपने वही विचार यहाँ भी दे सकते हैं।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.