APPS

आप इस वर्षांत तक गूगल असिस्टैंट को 30 भाषाओं में चला सकेंगे

एलैक्सा एंड्राएड स्मार्टफोनों, टेबलैट और गूगल होम स्पीकरों पर उपलब्ध हो चुकी है, तो गूगल भी अपनी दौड़ तेज कर रही है इसीलिये उसने तय किया है कि वह अपनी आवाजी सहायक गूगल असिस्टैंट को लोगों के लिये बहुभाषी बनायेगी।

गूगल की उद्घोषणा के अनुसार, गूगल असिस्टैंट बहुत जल्द बहुभाषी हो जायेगी जो दुनियाभर की 95 प्रतिशत एंड्राएड स्मार्टफोनों पर काम कर सकेगी। इस बहुभाषिकता के हिसाब से जो उपयोक्ता एक से अधिक भाषायें बोलते हैं, वे उन सभी भाषाओं में गूगल असिस्टैंट का उपयोग करने में सक्षम होंगे।

यह विशेषता उनलोगों के वाकई मददगार होगी जो घर में मातृभाषा का उपयोग करते हैं और बाहर या दोस्तों के साथ अलग भाषा में बोलना पसंद करते हैं।

गूगल असिस्टैंट अभी अलग-अलग भाषाओं को समझ सकती है किंतु इसकी एप में इन भाषाओं को आसानी से बदलने का विकल्प नहीं है। आपको एप की सैटिंग में जाकर भाषा चयन को विन्यासित करना पड़ता है। यह अद्यतन गूगल की असिस्टैंट को सही मायने में प्राकृतिक बना देगी जो उपयोक्ताओं के साथ उनके जैसे रह सकेगी।

बहुभाषा समर्थन की पहली किश्त में अंग्रेजी, फ्रांसीसी और जर्मन उपलब्ध होंगी और बाकी भाषायें समय के साथ जुड़ती जायेंगी।

गूगल की चतुर असिस्टैंट इस वर्ष 8 से बढ़कर 30 भाषाओं में उपलब्ध हो जायेगी। अगले कुछ महीनों में, असिस्टैंट एंड्राएड और आईफोन पर हिंदी, इंडोनेशियाई, नोर्वेजियाई, थाई, स्वीडिश, डैनिश और डच बोलना सीख जायेगी। 2018 के अंत तक गूगल असिस्टैंट 95 प्रतिशत एंड्राएड स्मार्टफोनों पर अपनी पहुँच बना चुकी होगी।

ऐसे में हिंदी और बाकी 7 भाषाओं के इसमें शामिल होने की तारीख का इंतजार है जिससे गूगल असिस्टैंट भारतीयों के लिये भी बेहतर अनुभव बन सकेगी।

यह गूगल असिस्टैंट को उसकी प्रतिद्वंद्वियों सिरी और अलैक्सा के मुकाबले ज्यादा फायदा देगी जिनके पास सीमित भाषा समर्थन है। अमेजन दुनिया की चुनिंदा बाजारों में ईको स्पीकर भेज चुकी है लेकिन उन स्थानों के लिये उपकरणों को स्थानीकृत नहीं किया गया है। अमेजन की एलैक्सा केवल अंग्रेजी, जर्मन और जापानी बोलती है। हालाँकि, सिरी 20 से अधिक भाषायें बोल सकती है।

इसके साथ गूगल ने असिस्टैंट मोबाइल ओईएम कार्यक्रम की भी उद्घोषणा की जो मोबाइल विनिर्माताओं को उनके उपकरणों पर असिस्टैंट को एकीकृत (इंटीग्रेट) करने, दिनचर्या तथा स्थान-आधारित अनुस्मारक जैसी विशेषतायें जोड़ने में मदद करेगी। यह कार्यक्रम अगले सप्ताह रीलिज होगी।

छवि स्त्रोत: lifehacker.com (संपादित)

क्या आप जानते हैं कि आपके द्वारा पढ़ा गया यह पोस्ट हजारों को प्रेरित करने वाली है? यदि इसका जवाब सकारात्मक है तो आप अपने वही विचार यहाँ भी दे सकते हैं।