Ananya, ENTERPRISE

आईक्लाउड सेवा हेतु एपल अब गूगल क्लाउड का उपयोग कर रही है

एपल ने पुष्टि की है कि वह अपनी आईक्लाउड सेवाओं की आँकड़ा भंडारित करने के लिये गूगल की सार्वजनिक मेघ (अका क्लाउड) सेवाओं का उपयोग कर रही है। यह खुलासा पिछले महीने जारी की गयी आईओएस सुरक्षा मार्गदर्शिका की नवीनतम संस्करण से हुयी है।

हालाँकि, इससे पहले 2016 में खबरें आयी थी कि एपल गूगल की मेघ सेवाओं पर आश्रित है लेकिन तब इसकी पुष्टि नहीं हो पायी थी।

इससे पहले एपल अमेजन वेब सेवाओं और माइक्रोसोफ्ट अजुरे द्वारा प्रदत्त सुदूर आँकड़ा भंडारण (रिमोट डाटा स्टोरेज) प्रणालियों का उपयोग करती थी जिसके लिये उसे लाखों डोलर का व्यय झेलना पड़ता था। एपल की मार्च 2017 में प्रकाशित आईओएस सुरक्षा मार्गदर्शिका में गूगल क्लाउड मंच के बजाय माइक्रोसोफ्ट अजुरे का जिक्र था।

आईओएस मार्गदर्शिका की पृष्ठांक 53 में गूगल क्लाउड प्लेटफोर्म शब्द का उपयोग किया गया है।

इस संचिका में साफ तौर पर लिखित नहीं है कि एपल गूगल की मेघ सेवाओं का उपयोग किस प्रकार कर रही है और इसपर उसकी आगे की योजना क्या है। इस दस्तावेज में इसकी शुरुआती दिनांक का भी जिक्र नहीं है जब एपल ने सार्वजनिक रूप से गूगल मेघ सेवा का उपयोग शुरु किया था।

एपल का यह प्रयास लागत कम करने की दिशा में उठाया गया एक सशक्त कदम है लेकिन उपयोक्ताओं के चेहरों पर चिंता की लकीरें दिख सकती हैं। हालाँकि दोनों कंपनियाँ अपने स्तर पर सर्वश्रेष्ठ करने में माहिर हैं और एपल इसके जरिये कोई बखेड़ा खड़ा नहीं करना चाहेगी।

छवि स्त्रोत: pexels.com (संपादित)

क्या आप जानते हैं कि आपके द्वारा पढ़ा गया यह पोस्ट हजारों को प्रेरित करने वाली है? यदि इसका जवाब सकारात्मक है तो आप अपने वही विचार यहाँ भी दे सकते हैं।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.