Ananya

अमेजन गो स्टोर सियेटल में खुली, कोई स्टाफ नहीं

यहाँ कोई कैशियर नहीं है, कोई पंजी नहीं है और नकद नारायण तो भूल ही जाइये- स्टोर शोपिंग का यह स्वप्न अमेजन देख रही है जिसकी पहली दुकान इसी सोमवार को अमेरिकी शहर सियेटल में खुली है।

कंपनी ने अपनी अमेजन गो दुकान आमजनों के लिये सोमवार से खोली है जो खरीदारों को दूध, आलु चिप्स या तैयार सलाद को उनके शेल्फ से लेने की अनुमति देती है। अमेजन की प्रौद्योगिकी ग्राहकों के दुकान से निकलने के बाद पैसे वसूलती है।

“यह एक अजीब अनुभव है क्योंकि यहाँ आपको ऐसा लगता है जैसे आप चोरी करने जा रहे हैं”, एक ग्राहक ने कहा जिन्होंने सोमवार को दुकान में खरीदारी किया था।

अमेजन कर्मचारी पिछले एक साल से इस दुकान का परीक्षण कर रहे हैं। अमेजन.कोम ने कहा कि इसमें कंपूटर विजन (संगणक दृष्टि), मशीन लर्निंग अल्गोरिदम और सेंसरों के उपयोग से पता लगाया जाता है कि लोग उनके शेल्फ से क्या उठाते हैं।

यह दुकान दूसरी वजह है कि अमेजन अपनी भौतिक उपस्थिति बढ़ाने के लिये गंभीर है। कंपनी ने दर्जनभर से अधिक दुकानों का अधिग्रहण किया है। लेकिन अमेजन गो बिल्कुल नयी अवधारणा है।

खरीदार अमेजन गो स्मार्टफोन एप से स्कैन करके दुकान में दाखिल होते हैं। जब शेल्फ से कोई सामान उठायी जाती है, तब उस खरीदार की आभासी कार्ट (वर्चुअल कार्ट) में जोड़ दी जाती है। यदि वह सामान उस जगह वापस पहुँच जाती है तो आभासी कार्ट से स्वतः हट जाती है।

यहाँ खरीदारी करने के लिये आपको पूर्ण डिजीटल होना पड़ेगा। लोगों के पास स्मार्टफोन और एक डेबिट/क्रेडिट कार्ड होना अनिवार्य है जिससे वे शुल्क देंगे। यहाँ पूरे परिवार के लिये भी खरीदारी की पूरी व्यवस्था है। पूरा परिवार एक एप से दुकान में दाखिल होकर सामानों की खरीदारी कर सकते हैं और फिर अपने कार्ड से भुगतान करके स्टोर को अलविदा कह सकते हैं।

ग्राहकों के लिये देखने लायक प्रौद्योगिकी की बहुत कमी है। लोग सिर्फ ब्लैक बोक्स, कैमरा और अंधेरे में रखी कुछ छोटी हरी बत्तियों को देख सकते हैं।

कंपनी ने दिसंबर 2016 में अमेजन गो स्टोर की उद्घोषणा की थी और कहा था कि 2017 में इसकी आगाज हो जायेगी पर इसमें प्रौद्योगिकी संबंधी कार्यों के कारण 2018 में ही आ सकी।

क्या आप जानते हैं कि आपके द्वारा पढ़ा गया यह पोस्ट हजारों को प्रेरित करने वाली है? यदि इसका जवाब सकारात्मक है तो आप अपने वही विचार यहाँ भी दे सकते हैं।